BJP attacks on Rahul Gandhi on his Foreign Tour

0
36

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी इन दिनों विदेश यात्रा पर है और उन्‍होंने वहां बीजेपी पर जमकर हमला किया है. बीजेपी ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर राहुल गांधी पर पलटवार किया. बीजेपी ने कहा कि राहुल गांधी विदेशी दौरे में भारत के बारे में बोल रहे हैं वो कहीं न कहीं उनकी अपरिपक्वता, अक्षमता को दर्शाता है. 1984 में हुए कत्लेआम जो हुआ वो सिर्फ बातों से नहीं धुलने वाला है. बीजेपी नेता आरपी सिंह ने कहा कि राहुल गांधी जी ने एक बार भी नहीं कहा कि 1984 के हुए सिखों पर कत्लेआम में जिन लोगों पर आक्षेप है उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए. 

जब राहुल गांधी की फोटो वाली पोस्‍ट हुई ट्रोल तो BJP ने भी कर दी Retweet, कही ये बात

आरपी सिंह ने कहा कि राहुल जी कह रहे थे मेरी सोच गुरुनानक जी से मिलती है, लेकिन सिख समुदाय को लगता है कि देश को बांटो और राज करो कि कांग्रेस नीति से राहुल की सोच मिलती है. राहुल गांधी जी आपको इतिहास की जानकारी कम है. गुरुनानक जी ने कहा था इतना मार पड़ रही है और आपको दर्द नहीं हो रहा, 1984 में गुरुनानक जी होते तो यही कहते. राहुल जी कभी आपने ये कहा कि 84 दंगों के कसूरवार को सजा मिले. उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी सिखों के वोट चाहिए इसलिए  ‘A friend in need is a friend indeed’ लेकिन जब सिखों के साथ न्याय की बात होती है तब friendship दिखती नहीं है. 

उन्नाव रेप केस पर जर्मनी में राहुल का PM मोदी पर निशाना, बोले- क्या न्याय का यही तरीका है ‘श्रीमान 56’

बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि राहुल गांधी आप सबसे ज्यादा विदेश यात्रा करते है और भारत की अर्थव्यवस्था के बारे में वहां ज्ञान दे रहे है. राहुल गांधी ने महिलाओं के बारे में टिप्पणी की, उनको ज्ञान नहीं है या वो समझना ही नहीं चाहते है. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने सब कुछ बांटा है और अब विदेश में जाकर देश का अपमान कर रहे है. एक नासमझ और नादान नेता अपनी पार्टी को जहां पहुंचा चुके हैंं अब को अपने देश को वहां पहुंचाना चाहते हैंं. केरल की बाढ़ पर कुछ छुद्र राजनीति कर रहे है और कुछ कांग्रेसी नेता संयुक्त राष्ट्र से मदद मांग रहे है.

जर्मनी में बोले राहुल गांधी: मेरे पिता के हत्यारे लिट्टे प्रमुख प्रभाकरण की मौत से मुझे और प्रियंका को खुशी नहीं हुई

टिप्पणियां


सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि प्रणब दा जब संघ के कार्यालय जाते हैं तब कांग्रेस के लोग ने उनकी आलोचना की, लेकिन जब सिद्धू पाकिस्तान गए और वहां के आर्मी चीफ से मिले तो उनके समर्थन में कांग्रेस आ गई. आज रतन टाटा भी मोहन भागवत के साथ मंच साझा कर रहे है. राहुल गांधी को अपने बुजुर्ग नेताओं से ही सीख लेनी चाहिए. 

VIDEO: राहुल के बयान पर बीजेपी का पलटवार
 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here